What IS NIOS-राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान

NIOS के बारे में आज हम आपको राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान के बारे में बहुत ही अच्छे तरीके से अपलोगो को बहुत महत्वपूर्ण जानकारी बताने जा रहा हु

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (सीबीएसई) आदि की भांति राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान भी माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक स्तर पर परीक्षा संचालित करता है। माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्तर पर सभी छात्रों के वर्तमान नामांकन के साथ यह दुनिया में सबसे बड़ी खुली स्कूली शिक्षा प्रणाली है जो भारत में मौजूद है।



यह जानकारी आप के लिए बहुत जरुरी है आज हमको NIOS क्या है उसके बारे में बताने जा रहा हु
फ़ैल हुए अभ्यार्थी ले लिए इसकी वैल्यू है और एक विशेष उदेश्यों के लिए इस शिक्षा संस्थान को बनाया गया है
इसको कब बनाया गया था इनका मकसद क्या है इस सब का सवाल का जवाब देंगे |



एक तो फ़ैल हुए अभ्यार्थी के लिए ,या उनके पास पैसों की कमी होती है .या वैसे किसी ऐसे किसी दूर -दुराज इलाके पर रहते हैं. जहां पर आस-पास में कोई कॉलेज या स्कूल व्यवस्था नही होती है.

 तो ऐसे स्टूडेंट घर में ही रह कर ही तैयारी करते हैं .और बाद में एग्जाम देते हैं ऐसे आसपास के लोग बहुत से इस शिक्षा संस्थान के बारे में सुने होंगे लेकिन आपलोग इसके बारे में जानकारी नही है तो आपको ये पोस्ट शरू से अंतिम तक अच्छे तरीके से अध्ययन करना होगा
इसमें सारी जानकारी एक -एक करके अच्छे से बताएंगे |जिससे की इसके बारे में आपको सारी जानकारी मिले |
सबसे पहले हम NIOS(National Institute OF Open School) के बारे में बताएंगे |

NIOS बोर्ड क्या है

National Institute OF Open School एक ओपन स्कूल है National Institute OF Open School बोर्ड को पहली बार 1989 में बनाया गाया था 

इसको बनाने का लक्ष्य यही था की इस शिक्षा संस्थान के मदद से आप बिना किसी स्कूल या कॉलेज गए बिना अपनी एजुकेशन डिग्री ले सकते है क्योंकि ऐसे बहुत से बच्चे है जो पैसे के आभाव के कारण या अपने घर में किसी परेशानी के कारण या स्कूल और कॉलेज घर से दूर होने के कारण वो वहा नही जा सकते है और अपनी पढाई नही कर पते है

उन्ही बच्चो को परेशानी को ध्यान में रखते हुए इस बोर्ड का गठन किया गया था ताकि कोई बच्चा किसी परेशानी वश या पैसा के अभाव में अगर दूर-दराज के क्षेत्रो में नही जा सकते तो वो बच्चे NIOS बोर्ड से एग्जाम दे सकते हैं और अपनी डिग्री ले सकते है 

इस बोर्ड से उन बच्चे को जाएदा फायदा मिला है पैसो के आर्थिक तंगी के कारण और स्कूल-कॉलेज में नही जा सकते थे ऐसे बच्चो के लिए ये बोर्ड एक वरदान से कम नही है खासकर वैसे बच्चे जो पैसो के आर्थिक तंगी के कारण के कारन अपनी एजुकेशन पूरा नही कर पाते थे उन्हें भी बहुत फायदा मिला है



NIOS बोर्ड से कौन पढ़ सकता है

NIOS बोर्ड एक राष्ट्र मुक्त संस्था है इस संस्था में कोई भी बच्चा एग्जाम दे सकता है इसमें कोई भी रोकटोक नही है
इस संस्था से किसी भी तरह का भी डिग्री के लिए एग्जाम दे सकते है |इस बोर्ड का एग्जाम साल में दो बार होता है पहला अप्रैल-मई और दूसरा एग्जाम नवंबर-दिसम्बर माह में इस बोर्ड का एग्जाम दे सकते है आप किसी तरह का एजुकेशन डिग्री ले सकते है | इस बोर्ड में कोई बाधा नही है |यह सभी लिए सामान है

NIOS बोर्ड मान्य है या नहीं

यदि आप इस बोर्ड से एजुकेशन डिग्री लेते है तो आपको किसी तरह भय करबे की जरूरत नही है इस बोर्ड की डिग्री हरेक जगह मान्य है लेकिन सम्बंधित बोर्ड सर्कार द्वारा मान्यता प्राप्त हो |

जिससे की आगे चल कर कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े क्योकि हमारे भारत देश में हरेक साल लाखो बच्चे ओपन बोर्ड से अपनी डिग्री प्राप्त कर रहे है बच्चे इस बोर्ड से 10वी या 12वी क्लास पास करने के बाद आप किसी तरह का एग्जाम की तयारी और नौकरी कर सकते है या किसी भी तरह का कोर्स करने के योग्य हो जायेंगे आपकी डिग्री हरेक जगह मान्य है जैसे की रेगुलर डिग्री

NIOS बोर्ड में कौन-कौन एडमिशन ले सकते हैं

यदि कोई स्टूडेंट 9th कक्षा में फेल हो जाता है या 11th कक्षा में फेल हो जाता है तब वह स्टूडेंट NIOS बोर्ड में दसवी क्लास या 12th में एडमिशन ले सकता है

 NIOS बोर्ड दुनिया का एक मात्र बोर्ड जो की दुसरे सभी बोर्ड के बराबर समान हक़ रखता है लेकिन हमारे भारत देश में हरेक राज्य का अपना अलग -अलग बोर्ड है और उनके अलग -अलग नियम है अगर आप 10th ओपन बोर्ड से करना चाहते है |तो आपको अपने गृह राज्य के बहार भी फॉर्म अप्लाई कर सकते है उसके लिए किसी तरह का दिकत का सामना नही पड़ेगा अउर अपनी डिग्री प्राप्त कर सकते है और वह डिग्री हरेक जगह मान्य होगी 

लेकिन आपको डिग्री किसी मान्यता प्राप्त ओपन बोर्ड ही डिग्री प्राप्त करनी होगी

NIOS और CBSE बोर्ड कौन सा अच्छा है

यदि आप स्कूल में जाकर पढना चाहते है इसके लिए आप सीबीएसई बोर्ड का चुनाव कर सकते है लेकिन आपके पास पैसे और समय की कमी ही तो या किसी वजह से आप स्कूल नही जा पा रहे है तो आप NIOS बोर्ड का चयन कर सकते है |

 बहुत स्टूडेंट ऐसा सोचते है की NIOS से डिग्री लूँगा तो आगे जा कर बहुत दिकत का सामना कर पड़ सकता है लेकिन आपको जानकारी के लिए बता दू की इस संस्था की डिग्री हरेक जगह मान्य है क्योंकि ये संस्था सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त संस्था है जिस तरह और भी बोर्ड को मान्यता दी गयी है 

उसी तरह इस बोर्ड को भी मान्यता दी गयी है आप इस संस्था से डिग्री लेने में डरे नही बेहिचक इस संस्था से आप कोई भी एजुकेशन डिग्री ले सकते इस संस्था की डिग्री हरेक जगह मान्य है

हमारे भरत देश में बस कुछ ही गिनी -चुनी यूनिवर्सिटी है जो की NIOS बोर्ड के डिग्री को एक्सेप्ट नही करती है लेकिन उसके अंदर दाखिला लेना चहते है उसके पहले आपको एक एग्जाम उसका क्वालीफाई करना होगा उसके बाद उसमे दाखिला ले सकते है

केवल आधिकारिक वेबसाइट पर NOIS की उचित जानकारी प्राप्त करने के लिए। कोई संस्थान नहीं है जो ऑनलाइन प्रवेश कर सके। ऑनलाइन प्रवेश केवल NIOS की वेबसाइट से ही लिया जा सकता है, लेकिन शुल्क जमा करने को एनआईओएस के आधिकारिक केंद्रों के माध्यम से ऑफलाइन भी किया जा सकता है या फॉर्म भरने या अन्य क्वेरी में समर्थन के लिए हमें कॉल किया जा सकता है। 

यह साइट एनआईओएस प्रवेश, राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा पंजीकरण और आवेदन में छात्रों की सहायता के लिए विकसित की गई है। NIOS के लिए शैक्षणिक सामग्री (बाहर से) खरीदने की कोई आवश्यकता नहीं है, यह NIOS द्वारा प्रवेश के समय छात्रों द्वारा भरे गए फॉर्म में दिए गए डाक पते पर नि: शुल्क प्रदान की जाती है।

बहुत सारे छात्र हैं जो एक विषय में अच्छे हैं लेकिन दूसरे में थोड़ा गरीब हैं। उदाहरण के लिए, एक उम्मीदवार गणना में बहुत अच्छा है, लेकिन उसे कम करके सीखने में रुचि है। वह हमेशा गणित में अच्छे अंक प्राप्त करता है लेकिन किसी भी अन्य विषयों में असफल हो जाता है 

जिसके परिणामस्वरूप अंतिम परीक्षा में असफल हो जाता है। NIOS में, आप वर्ष के पहले भाग में कुछ विषयों के लिए और शेष सत्र के अगले सत्र के लिए उपस्थित हो सकते हैं। 

इस तरह विद्यार्थी एक आसान विषय और एक कठिन विषय पहले पास करके और फिर बाकी बचे हुए विषयों को बाद में उत्तीर्ण कर सकता है। अगर किसी ने स्कूल की पढ़ाई छोड़ दी है और अब वह अपनी स्कूली शिक्षा जारी रखना चाहता है, तो एनआईओएस उसके लिए सबसे अच्छे विकल्पों में से एक है। अगर नोवीं या ग्यारवी कक्षा में फेल हो गया है और बिना कक्षा रिपीट किए किए गए दसवीं या बारहवीं की परीक्षा देना चाहता है तो NIOS उसके लिए विकल्प है। 

ओपन स्कूलिंग कक्षा x (यदि आपके पास बुनियादी प्रारंभिक शिक्षा है) या xii (यदि आपने कक्षा x या समकक्ष की परीक्षा उत्तीर्ण की है) की प्रत्यक्ष परीक्षाएं प्रदान करता है। 

NIOS द्वारा दी गई शिक्षण सामग्री ऑनलाइन पीडीएफ के रूप में उपलब्ध है और कई उदाहरणों से युक्त पुस्तक के रूप में भी उपलब्ध है जो छात्रों के लिए स्व-अध्ययन के लिए बहुत सहायक हैं।

इच्छुक शिक्षार्थी NIOS प्रवेश के लिए उसके वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं क्योंकि यह पंजीकरण का एकमात्र तरीका है। एनआईओएस प्रवेश पत्र अंतिम तिथि से पहले भरा जाना चाहिए। उसके बाद, आवेदन बंद हो जाएगा और उम्मीदवार आवेदन नहीं कर पाएंगे। आवेदकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे प्रामाणिक जानकारी प्रदान करें और सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।

NIOS ADMISSION ELIGIBILITY 2020

एनआईओएस प्रवेश पत्र भरने से पहले, सभी शिक्षार्थियों या आवेदकों को प्रोस्पेक्टस में वर्णित पात्रता को ध्यानपूर्वक पढ़ना आवश्यक है। केवल पात्र उम्मीदवारों को आवेदन पत्र भरने की सलाह दी जाती है।
दोनों के लिए पात्रता मानदंड और प्रतिवादी सचिवों के रूप में वरिष्ठ सचिवों के लिए हैं- द्वितीयक सचिव के लिए प्रवेश के लिए-

  1. शिक्षार्थी की आयु 31 जुलाई 2019 को ब्लॉक I के लिए 14 वर्ष की होनी चाहिए
  2. कंडीडेट्स की आयु 14 वर्ष होनी चाहिए क्योंकि 31 जनवरी 2019 को ब्लॉक II के लिए। 3. उम्मीदवारों के पास न्यूनतम योग्यता के प्रमाण के रूप में किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से आठवीं कक्षा का प्रमाणपत्र होना चाहिए।

आवेदकों के पास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए और एक माध्यमिक प्रमाणपत्र होना चाहिए।

NIOS प्रवेश आवेदन / पंजीकरण फार्म 2020
NIOS प्रवेश पूरी तरह से ऑनलाइन मोड पर आधारित है। 1. इच्छुक उम्मीदवार निर्दिष्ट तिथियों के भीतर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पोर्टल अंतिम तिथि के बाद बंद हो जाएगा।

  1. आवेदकों को आवेदन से पहले NIOS प्रॉस्पेक्टस और सभी निर्देशों के माध्यम से जाना चाहिए।
  2. आवेदकों को आवेदन पत्र भरने से पहले सभी दस्तावेजों को अपने पास रखना चाहिए और उन्हें विवरण भरने के लिए दस्तावेजों का उल्लेख करना चाहिए ताकि वे गलतियों से बच सकें।

एनआईओएस आवेदन फार्म भरने के लिए कैसे?
समय की जरूरत: 30 मिनट चूंकि प्रवेश के लिए आवेदन केवल ऑनलाइन मोड के माध्यम से किया जा सकता है, उम्मीदवारों को आधिकारिक वेबसाइट से फॉर्म भरना होगा। आवेदन पत्र भरने में आवेदकों को सहायता प्रदान करने के लिए, हमने नीचे पूरी प्रक्रिया साझा की है। 

पंजीकरण उम्मीदवारों को एनआईओएस के छात्र पोर्टल पर जाना होगा। “रजिस्टर” बटन पर क्लिक करें। आवश्यक विवरण भरें और सबमिट बटन पर क्लिक करें। 

इसके बाद स्टेप एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा। इसमें 4 सेक्शन होंगे- बेसिक डिटेल्स, पर्सनल डिटेल्स, सब्जेक्ट सिलेक्शन, स्टडी सेंटर सिलेक्शन फिल बेसिक डिटेल्स बेसिक डिटेल्स पर क्लिक करें। पिता का नाम, माता का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल जैसे विवरण दर्ज करें। 

सभी विवरणों को मान्य करने के लिए “जनरेट ओटीपी” पर क्लिक करें। अन्य सभी विवरण जैसे जाति, श्रेणी आदि भरें। दस्तावेज़ अपलोड करें “अन्य जानकारी” पर क्लिक करें फोटोग्राफ, आईडी प्रमाण और अन्य दस्तावेजों की स्कैन की गई कॉपी अपलोड करें। अगले बटन पर क्लिक करें। इस चरण को पूरा करने के बाद, शिक्षार्थियों के लिए एक उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड बनाया जाएगा। उन्हें उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक हैं।

 वैकल्पिक विवरण भरें इस चरण में, उम्मीदवारों को सभी वैकल्पिक और विविध विवरण भरने होंगे। विषय चयन यहां उम्मीदवारों को अपने पाठ्यक्रम के अनुसार विषयों का चयन करना होगा और पिछले योग्यता विवरण भी प्रदान करना होगा। अध्ययन केंद्र का चयन अब, शिक्षार्थियों को अपनी पसंद के अनुसार अध्ययन केंद्र का चयन करना होगा। 

वे अधिकतम 3 अध्ययन केंद्रों का चयन कर सकते हैं। समीक्षा सभी विवरणों को भरने और सभी दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद, “समीक्षा” बटन पर क्लिक करें। सभी विवरणों को एक बार फिर से देखें। समीक्षा के बाद “अगला” विकल्प पर क्लिक करें। भुगतान अंतिम चरण भुगतान करना है। 

किसी भी भुगतान मोड का चयन करें और निर्धारित आवेदन शुल्क का भुगतान करें। सफल भुगतान के बाद उम्मीदवारों को ईमेल और एसएमएस के माध्यम से शुल्क भुगतान रसीद प्राप्त होगी। 

अंतिम रूप से प्रिंटआउट लें, उम्मीदवार भविष्य के संदर्भों के लिए भरे हुए आवेदन पत्र का प्रिंटआउट सहेज सकते हैं और ले सकते हैं। 

नोट- उम्मीदवार बाद में भुगतान भी करते हैं। इसके लिए, उन्हें छात्र पोर्टल में बाद में उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड का उपयोग करके लॉग इन करना होगा

Job
Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top