SEO Kya hota hai hindi Me 2020 :-Search Engine OPTIMIZATION Kya hai aur ise use kaise karte hai

SEO Kya hota hai hindi Me 2020

SEO जो “SEARCH Engine OPTIMIZATION” के लिए खड़ा है, वह आपकी वेबसाइट या Google, बिंग, YouTube, फेसबुक पर किसी भी अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को व्यक्तिगत या व्यावसायिक उद्देश्य से रेकॉर्ड करने की विधि है। यह काम कर रहा है| सरल भी है।

यह आपको अपनी वेबसाइट, वेब-पेज, उत्पाद, सेवाओं के बारे में दृश्यता बढ़ाने में मदद करता है, सोचा था कि कार्बनिक खोज परिणामों को भी अर्जित परिणाम कहा जाता है। यह विभिन्न प्रकार की खोज को लक्षित कर सकता है,

ज्यादातर नये Bloggers और Builders के मन में ये सवाल हमेशा उठता है की website improvement क्या है और website improvement क्यों USE करते है। और क्योंकि शुरुवात के समय में कोई भी जानकर नहीं होता है जिसकी वजह से ये सवाल उठना लाज़मी है। हालांकि site improvement इस Digital ज़माने की Spine (रीढ़ की हड्डी) है जिसके बिना इस Digital Market और इस Indurstery में रह पाना असम्भव सा है।

आज हम अपने Aitical में website improvement के बारे में लगभग सभी बातें जानेंगे। और मेरी पूरी कोशिश होगी की “website improvement क्या है और site improvement क्यों USE करते है” ये सवाल आपके मन में न रहे।

जिसमें Image Search, Video Search, Education Search, NewsPaer Search और Buisness Search शामिल हैं। Browser और भाषा जिसमें एक वेब-पेज या वेबसाइट उत्पन्न होती है, वेब-पेज जितना अधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, वेबसाइट पढ़ने में आसान या बेहतर मौका है, वह पेज या साइट खोज परिणामों में एक शीर्ष रैंक प्राप्त करने के लिए है। ।


एसईओ सेवा एक ऐसी तकनीक है जिसके माध्यम से एक एकल या लोगों की एक टीम आज की दुनिया में उपयोगकर्ताओं को दिखाई देने वाली उत्पाद या सेवा बना सकती है। यह उत्पादों, सेवाओं, एक कारण, एक लेख, नई तकनीक, एक अभियान और कई अन्य चीजों को बाजार में या बढ़ावा देने का एक नया और इष्टतम तरीका है।

SEO Kya hota hai hindi Me 2020
SEO Kya hota hai hindi Me 2020

उदाहरण के लिए – आपका कोई बिज़नेस है या आप Weblog लिखते है और अपने एक वेबसाइट बनाई है लेकिन अगर आपने उसका web streamlining नहीं किया तो लोगो तक और Search Engine तक ये बात कैसे पहुंचेगी की आपने कोई Web website बनायीं है वैसे Search Engine (जैसे Google Bing,Yahoo) तक अपनी Web webpage को पहुंचने के लिए Sitemap Submission करना होता है।

भले ही आपने कितनी भी अच्छी वेबसाइट बनायीं हो या बहुत अच्छा और जरूरी कंटेंट अपनी ब्लॉग में लिखा हो लेकिन जब तक आप लोगो तक अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को पंहुचा ही नहीं पाएंगे तब तक उसका कोई भी फायदा नहीं होता। इस समस्या के समाधान के लिए ही website streamlining का use होता है

क्योंकि website streamlining के ऊपर Digital Advertising, Web और लगभग पूरी आईटी की दुनिया निर्भर (Rely) करती है और 21 वी सदी के Digital ज़माने में लगभग हर चीज ऑनलाइन है फिर चाहे वो On-line Market हो, On-line Restaurant हो या On-line पैसे भेजना हो कोई और सर्विस लगभग सभी चीजे अब ऑनलाइन ही है

यहाँ तक अब तो शादियाँ भी ऑनलाइन हो गयी है तो अगरइसको सरल शब्दों में परिभाषित किया जाये तो “web improvement किसी भी Web website या Weblog को Search Engine के सर्च रिजल्ट में Prime पर लाने में बहुत अहम् रोल निभाता है।”

यह उन चीजों या वस्तुओं के बारे में लोगों को जागरूक करने का नया और बढ़ता तरीका है जो आज दुनिया पेश कर रही है। यह एक ऐसी सेवा है जो किसी एकल व्यक्ति द्वारा अपने व्यवसाय को बहु-राष्ट्रीय कंपनियों के लिए अपने व्यवसाय को रैंक करने के लिए अपने पेज को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए उपयोग की जाती है ताकि अधिक व्यवसाय उत्पन्न किया जा सके और अधिक संभावित ग्राहकों को प्राप्त किया जा सके, लेकिन इसके लिए आपको एसईओ का उचित ज्ञान होना चाहिए। ।

बहुत से लोग एसईओ के बारे में नहीं समझते हैं क्योंकि उनके पास उचित कौशल या ज्ञान नहीं है जो वे इसे आज़माते हैं, लेकिन उत्पाद या पृष्ठ को ठीक से रैंक नहीं मिलता है क्योंकि इसमें कौशल की आवश्यकता होती है, समय बहुत तकनीकी है, यातायात हो रहा है लेकिन नहीं मिल रहा है अपेक्षित धारणा और कई अन्य कारकों से कोई भी व्यवसाय या कम व्यवसाय, लेकिन उचित कौशल, समय और संसाधनों के माध्यम से आप एसईओ का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

आज के युग में, ऑनलाइन कारोबार करने वाली कंपनियों या प्रमुख ऑनलाइन कारोबार जानता है कि यह वहाँ व्यापार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, क्योंकि इसके बिना वे वहाँ के उत्पाद या सेवाओं को ऊपर-बढ़ते बाजार और विनम्र पूर्णता में सूचीबद्ध नहीं कर पाएंगे। वे चीज़ों को प्राप्त करने के लिए दर्शकों को लक्षित करने के लिए एक संसाधन के रूप में एसईओ का उपयोग क्यों करते हैं।
सही कौशल वाला व्यक्ति मार्केटिंग और अन्य संसाधनों पर संपूर्ण धन खर्च किए बिना अपने ब्रांड या सेवाओं को अपने बाजार या अंतर्राष्ट्रीय बाजार में प्रस्तुत कर सकता है।

तो इस बाजार में सफलता का एक बेहतर मौका पाने के लिए आपको एसईओ को एक उपकरण के रूप में समझना चाहिए जब सही तरीके से उपयोग किए जाने वाले काम बिना किसी परेशानी के आसानी से किए जा सकें। इसके साथ आपको अन्य उपकरणों की भी आवश्यकता होती है। इसलिए आप विभिन्न सेवा प्रदाता या विशेषज्ञों से पेशेवर सहायता प्राप्त नहीं कर सकते हैं जो आपके लक्ष्य को प्राप्त करने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

आशा है की अब तक आप सभी ये समझ चुके होंगे की Seo क्या है और ये Digital Market की दुनिया में कितना महत्वपूर्ण है लेकिन उससे भी ज्यादा ये जानना जरूरी है Search motor showcasing को सही तरीके से कैसे यूज़ करे जोकि हमे बेहतर रिजल्ट दे । क्योंकि जिस तरह अपने जीवन में हम यातायात नियम (Site guests Guidelines) का पालन करते है

जिससे की हम सुरक्षित अपने गन्तव्य स्थान तक पहुंच सके ठीक उसी प्रकार website improvement को ठीक तरह से जानना और नियम के मुताबिक करने से हम आसान और जल्दी और सही तरीके से अपनी मंज़िल तक पहुँच सके तो आइये अब जानते है की website streamlining कितने तरह के होते है

हालाँकि, आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि एक Web webpage को बनाना और व्यक्तियों को देखना दोनों बिल्कुल अलग चीजें हैं।

वेबसाइट में SEO के क्या जरुरत है:

जैसे के में आपको पहले बता चूका हूं, की सभी लोग उनके जरुरत के लिए Google में सर्च करते है. लगभग 90% लोग Google सर्च इंजन उसे करते हे.

अगर किसी वेबसाइट के examination डाटा देख जाए, इसमें बहुत प्रकार का traffic होता है. Referal Traffic, Diract Traffic and Organic Traffic. सभी वेबसाइट traffic आछा होता है. लेकिन Search Engine ट्रैफिक यानि Organic Traffic point pertinent टरट्राफिक होता है. क्योंकि लोग अपने जरुरत की जानकारी केलिए Search Engine में Search करते हे. और उनके जरुरत के हिसाब से वेबसाइट पे visit करते हे.

SEO (search engine optimization) कितने तरह के होते है-:

1. On Web page Search engine marketing

2. Off Web page Search engine marketing

जैसा की इसके नाम से पता चल रहा है आपकी वेबसाइट के हर पोस्ट के लिए आपको On Web page Search motor promoting करना होता है। On Web page Search motor advertising ऐसा Issue है जिसको बहुत ही सावधानी के साथ करना होता है क्योंकि आपकी Web webpage को रैंक कराने में On Web page Search motor showcasing का बहुत बड़ा रोल होता है।

ये सर्च इंजन को बताता है की आपका पोस्ट किस बारे में है! और आप किन Key expressions पर अपने पोस्ट को रैंक करवाना चाहते हैं। On Web page Search motor advertising करने में बहुत कम समय लगता है और इसे आप सही ढंग से करते है तो एक ही बार करने से आपका पोस्ट गूगल रैंक कर सकता है।

आइए अब समझते है की हम On Web page Search motor showcasing कैसे करे , और करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए –

On-Page SEO के बहत सारा Process है, उसे optimize करना बहत जरुरी है.
On-page SEO के Factors:

  1. Title tag optimization
  2. Permalink optimization (canonical Link)
  3. Keyword Implementation
  4. Keyword density
  5. Image Alt tag & Title tag
  6. Header tags (h1, h2,h3…)
  7. Meta description Optimization
  8. Structure data Implementation
  9.  Mobile-Friendly pages
  10. Website Speed
  11. Robots.txt file
  12. Sitemap.xml page
  13. Internal Linking
  14. External Linking

Title Tag –

Site के Search engine marketing में Title Tag का चुनाव बहुत सोच समझ कर करना चाहिए क्योंकि Title ही यूजर को सबसे पहले दिखाई देता, इसीलिए Title हमेशा Catchy होना चाहिए की यूजर आपके Title को देखते ही उस पर Click on करने को मजबूर हो जाये।

यह सबसे खास जड़ होता है किसी भी “लेख यानी पोस्ट” का। तो हमेशा यह कोशिश करें की पेज टाइटल में पोस्ट से सम्बंधित सबसे खास कीवर्ड ज़रूर हो। या फिर कीवर्ड से मिलता जुलता पेज टाइटल लिखने की कोशिश करें।

एक बात का ज़रूर ध्यान रखें की कीवर्ड कभी भी पेज टाइटल में दुहराया न जाये। हो सके तो पेज टाइटल में कुछ कीवर्ड को संबोधित करने वाले शब्द का इस्तेमाल करें जैसे – सीखें (Learn), गाइड (Guide), टॉप (Top), हिंदी में (in Hindi)…

Inside linking –

अपनी Web site पर आये हुए Customer को Interact रखने का और अपनी Submit को रैंक करवाने का बहुत अच्छा तरीका है की आप अपने Submit से Associated Web page को आपस में Interlink करे।

Heading & Sub-Heading का Use –

अपने पोस्ट को लिखते समय Heading और Sub-Headings का जरूर use करे। जैसे H1,H2,H3,H4,H5,H6 !

ऑन पेज web optimization के लिए बड़े ही अहम भूमिका निभाते है। लेख लिखते समय इन टैग्स में कीवर्ड का इस्तेमाल ज़रूर करें।

ध्यान रखें की कीवर्ड्स हर टैग्स में अलग हो। अर्थात लेख से सम्बंधित कुछ सबसे ख़ास कीवर्ड्स को इकठ्ठा कर लें, फिर उन कीवर्ड्स को घटते हुए क्रम में नोट के तौर पर कही लिख लें। अंततः उन सभी कीवर्ड को बारी से H1, H2, H3,..H6 में इस्तेमाल करें।

ज़्यादातर CMS (कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम) जैसे wordpress स्वतः ही लेख के पेज टाइटल को H1 टैग्स बना देते है। वैसे सबसे ज्यादा ध्यान देने वाले शीर्षक टैग्स केवल H1, H2 और H3 होते हैं।

Submit का Url 

POST का URL हमेशा छोटा ही होना चाहिए और उसमे किसी तरह का कोई Particular Character नहीं use करना चाहिए

Meta Description –

Title के बाद Description ही ऐसी चीज है जो Search Engine में सीधा दिखाई देता है Meta Description आपकी Web site के बारे में ये दर्शाता है की आपका पोस्ट किस बारे में है |

उदाहरण के तौर पर : जब हम कोई चीज किसी सर्च इंजन (जैसे गूगल) पर खोजते है तो एक पेज खुलकर आता है, जिसमे बहुत सारे लेख के लिंक दिखते हुए नज़र आते है। जैसा की निचे दिए गए फोटो में एक लिंक दिख रहा है।

आप देख पा रहे होंगे की हरे बॉक्स में छोटा सा लेख का एक टुकड़ा दिख रहा है जिसमे कुछ ख़ास कीवर्ड है जैसे – फ़िल्म, चलचित्र, सिनेमा। जो पेज टाइटल यानी हैडर का बखूबी तरीके से व्याख्या कर रहे है। जो की website optimization के लिए बहुत फायदेमंद है।

वेबसाइट गति और कार्यशीलता (Website Speed & Performance)

गूगल के अनुसार किसी भी वेबसाइट की रैंकिंग उसकी वेबसाइट के गति और कार्यशीलता पर भी ख़ास तौर से निर्भर करती है। मतलब यह की अगर किसी वेबसाइट की गति यानि “पेज लोडिंग टाइम” धीमी रहती है तो ज़्यादातर पाठक उस पेज को छोड़कर दुसरे किसी वेबसाइट पेज पर चले जाते हैं। और आपके वेबसाइट पर दुबारा नहीं आते है।

कुछ सर्वेक्षण (review) के अनुसार यह पाया गया है की, 70% ऑनलाइन पाटक उस वेबसाइट पर दुबारा नहीं जाते है जिन वेबसाइट की स्पीड अधिकतम 4 सेकंड से ज्यादा रहती है।

तो बिना देरी किये बगैर आपकी वेबसाइट की स्पीड सही करने के लिए आपको बेहतर थीम (subject), फ़ास्टर होस्टिंग सर्विस (quicker facilitating administration), सी.डी.एन. (CDN) और इमेज ऑप्टीमाईज़र (picture streamlining agent) का इस्तेमाल शुरू कर देना चाहिए।

Build Responsive Website

अनुक्रियाशील वेबसाइट मतलब, अगर आप किसी लेख को अपने लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर में जैसे देख और पढ़ पा रहे हैं, बिलकुल उसी तरह से मोबाइल और टैबलेट में भी देख और पढ़ ले रहे हैं, तो फिर वह लेख जिस वेबसाइट पर है वह वेबसाइट अनुक्रियाशील वेबसाइट (Responsive Website) है।

2015 में गूगल उन सभी वेबसाइट को रैंकिंग घटोतरी का दंड दिया था, जो वेबसाइट मोबाइल फ़ोन के अनुकूल यानी Mobile cordial नहीं थे। यह शिलशिला हो सकता है अभी भी ज़ारी हो… ।

चलो कुछ देर के लिए मान लेते है की आज के समय में ऐसा कुछ भी नहीं है, लेकिन कल का क्या भरोसा ?? अगर 2015 वाली घटना फिर से तूफ़ान की तरह आ गयी तो ? आपकी वेबसाइट की बनी बनायीं रैंकिंग पल भर में निचे आ सकती है। और बाकी तो आपको पता ही है की, रैंकिंग बेहतर बनाने में कितनी मेहनत करनी पड़ती है।

इस लिए वेबसाइट की संरचना ऐसी बनायें यानी वेबसाइट की थीम ऐसी रखें, जो मोबाइल फ़ोन के अनुकूल (Mobile cordial) हो।

Off-Page SEO Kya Hai

जैसा की इसके नाम से ही समझ आ रहा है off Web page Search engine marketing मतलब ये की इसमें आपको आपकी वेबसाइट के बाहर ही सरे काम करने होते है

दूसरे शब्दों में कहे तो आपकी वेबसाइट का प्रचार प्रसार (Promotion ) करना होता है

वैसे तो Web site Promotion के बहुत तरीके है जोकि बिल्कुल Free है लेकिन इसका सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है Social media क्योकि ज़्यदातर Web यूजर अपना काफी Time Social Media पर ही देते है।

आप इसके लिए Social Networking Websites जैसे Fb, Instagram, Twitter पर अपना एक पेज बनाकर उस पर फॉलोवर्स को बढ़ाये। और सभी जरुरी जानकारी साझा करते रहें।

इसके अलावा आपको आपके Web site या Weblog से सम्बन्धित Web site से Hyperlink Generate करना होता है और हाँ Hyperlink बनाने से पहले ये जरूर ध्यान रखे की उस Web site की Authority अच्छी हो जिससे आप Backlink ले रहे है।

इसके साथ ही आप Picture sharing भी कर सकते है बहुत सी Picture sharing web sites है जैसे- Instagram, Pinterest,Flickr  पर शेयर करके अपनी साइट पर site visitors ला सकते है।

Off-Page SEO अबतक का सबसे troublesome SEO Process है.

इस SEO measure में, एक वेबसाइट को enhance करने केलिए outside of वेबसाइट में Link Building करना पड़ता है. In Other words इसे Link Building SEO भी कहा जाता है. इस measure में वेबसाइट को advance करने के लिए दूसरे वेबसाइट में Link Building करना पड़ता है. और इस measure को backlink कहते हे.

“Backlink एक hyperlink है implies text inside the outside connection (Highlighted On A site) होता है”

बिना backlink के वेबसाइट को Google में rank करना बहत मुश्किल होता है. आपके वेबसाइट में जितना Backlink होगा उस हिसाब से आपका वेबसाइट का rank, Domain Authority ज्यादा होगा. वेबसाइट को ज्यादा Organic Traffic मिल पायेगा.

तो वेबसाइट में Link Building का बहुत बड़ा भूमिका है.

Link Building/Off-Page key Factors:

  1. Guest posting
  2. Social Bookmarking
  3. Slideshare Submission
  4. Blog Commenting
  5. Directory Submission
  6. PDF Submission

Rank in TOP of the Google Search Results 2020

Why To Work at Home 2020
IBPS Clerk 2020 Notification

SarkariDailyNaukari की तरफ से आप अभी आवेदक को शुभकामनाएं | सभी तरह के सरकारी नौकरी अलर्ट के लिए ,रिजल्ट के लिए और अन्य सभी सरकारी नौकरी के लिए www.sarkaridailynaukari.com/ को विजिट करे SEO Kya hota hai hindi Me 2020

आवेदन करने वाले इच्छुक उम्मीदवार सभी मानदंड ,नौकरी विवरण ,ऑनलाइन फॉर्म भरने की शुरुवात और अंतिम तिथि और आवेदन प्रक्रिया जैसे महतवपूर्ण जानकारी निचे देख सकते है | ऑनलाइन आवेदन जमा करने से पहले आप सभी विवरण को ठीक और सही तरीके से पढ़ ले SEO Kya hota hai hindi Me 2020

यदि आपको कोई क्वेश्चन हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताये, निचे कमेंट बॉक्स है उसके द्वारा आप हमें सन्देश भेज सकते है या फिर फिर कांटेक्ट पेज से भी समपर्क कर सकते है| SEO Kya hota hai hindi Me 2020

COMFED Recruitment 2020
SEO Kya hota hai hindi Me 2020

SEO Kya hota hai hindi Me 2020

AirnetTechnology a established player in the IT market, is a leading provider of comprehensive web products, solutions and internet services, Web Design, web script and application, Web Programming, Search Engine Optimization(SEO) and submission and internet marketing, ready made web site packages, Internet Advertising, search engine and web directory solutions, portal development, Readymade website templates, Software Development, link exchange services, Data Entry, Data Conversion and customer online support solutions. (SEO Kya hota hai hindi Me 2020)

Our eCommerce solutions are the most effective online selling tools due to intuitively designed UI, fast loading speed & one step checkout that gives an exclusive shopping experience…Online pdf edit kaise kare 2020 SEO Kya hota hai hindi Me 2020

Company give you a good connectivity and as well as good performation(SEO Kya hota hai hindi Me 2020) SEO Kya hota hai hindi Me 2020 SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020

SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020SEO Kya hota hai hindi Me 2020

We give you a Unique design. With a custom web design it is created just for your business. Your website will be different from anyone else’s. By hiring the right web team, it will be constructed so it is search engine friendly. How the background coding of your website is done will influence your success in the search engines. The website will be more adaptable for you and your business or company’s needs. SEO Kya hota hai hindi Me 2020

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

Notice: is_search was called incorrectly. Conditional query tags do not work before the query is run. Before then, they always return false. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 3.1.0.) in E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\functions.php on line 5229

Notice: is_404 was called incorrectly. Conditional query tags do not work before the query is run. Before then, they always return false. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 3.1.0.) in E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\functions.php on line 5229

Fatal error: Uncaught Error: Call to undefined function WP_Optimize() in E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-content\plugins\wp-optimize\cache\file-based-page-cache-functions.php:164 Stack trace: #0 [internal function]: wpo_cache('<!DOCTYPE html>...', 9) #1 E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\functions.php(4673): ob_end_flush() #2 E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\class-wp-hook.php(287): wp_ob_end_flush_all('') #3 E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\class-wp-hook.php(311): WP_Hook->apply_filters('', Array) #4 E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\plugin.php(478): WP_Hook->do_action(Array) #5 E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-includes\load.php(1007): do_action('shutdown') #6 [internal function]: shutdown_action_hook() #7 {main} thrown in E:\Inetpub\vhosts\gurukulawasiyabalvidyalaya.com\sarkaridailynaukari.com\wp-content\plugins\wp-optimize\cache\file-based-page-cache-functions.php on line 164